Monday, April 19, 2010

कुछ शब्द मेरे अपने

मैं आभारी हूँ उस परमात्मा की ,मेरे जीवन का हर-पल एक उत्सव के समान है ।
सुबह आँखे खोलने से लेकर रात को सोने तक
मैं और मेरा परिवार हर-पल आनंद का अनुभव् करता है।
मेरी सभी इच्छाएं स्वतः ही पूरी हो जाती हैं ।
मैं खुश हूँ और खुशियाँ बाँटती हूँ
डॉ.शालिनीअगम
2O10

video

2 comments:

JAGDEEP said...

I THANKFUL TO U WHO TAUGHT ME TO THANKFUL OF GOD
THANKS SHALU

Anonymous said...

YOUR GRATITUDE.........NICE